EV सेगमेंट में होगा बड़ा धमाका, ‘इन’ दो दिग्गज कंपनियों ने मिलाया हाथ, अब हर सड़क पर होंगे इलेक्ट्रिक वाहन

नई दिल्ली: सोनी और होंडा, जो अपने-अपने सेगमेंट में दो प्रतिष्ठित कंपनियां हैं, उन्होंने निकट भविष्य में इलेक्ट्रिक कारों के निर्माण के लिए एक बड़ा समझौता किया है। सोनी (जो एक प्रमुख इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी है) और होंडा (एक प्रमुख ऑटोमोबाइल कंपनी) के बीच समझौते के मुताबिक दोनों ने ५०:५० भागीदारी के साथ कंपनी लॉंच की है ,और इसे सोनी होंडा मोबिलिटी इंक के नाम से जाना जाएगा।

इस साल तक गाड़िया होंगी रोड पर 

सोनी और होंडा द्वारा निर्मित इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री 2025 तक बाजार में आने वाली है। दोनों कंपनियां मांगों को पूरा करने के लिए जिम्मेदारियों को आपस में बांट लेंगी। बिक्री के साथ-साथ सेवा प्रबंधन नेटवर्क भी होंडा द्वारा प्रबंधित किया जाएगा। दूसरी ओर, सोनी अपने इमेजिंग, सेंसिंग और दूरसंचार नेटवर्क का उपयोग नई पीढ़ी की गतिशीलता और गतिशीलता के लिए सेवाओं के लिए करेगी।

मान अजा रहा है रहे हैं कि होंडा और सोनी के बीच संयुक्त साझेदारी के परिणामस्वरूप सोनी के विजन-एस 01 सेडान और विजन-एस 02 क्रॉसओवर का विकास होगा। दो बहुराष्ट्रीय कंपनियों के संयुक्त उद्यम से दुनिया भर में इलेक्ट्रिक वाहनों के क्षेत्र में एक नया युग आने की उम्मीद है।

इलेक्ट्रिक वाहनों का युग पहले ही दुनिया भर में शुरू हो चुका है और दो प्रमुख कंपनियों (सोनी और होंडा) के बीच साझेदारी इस लाइन में एक बड़ा कदम है। हालांकि यह कहना जल्दबाजी होगी। एक्सपर्ट्स उम्मीद करते हैं कि इस संयुक्त उद्यम के तहत आने वाले इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत सस्ती होगी।

विशेष रूप से, भारत जैसे दक्षिण एशियाई देशों में खरीदार ईवी को तभी स्वीकार कर सकते हैं जब यह उनके बजट में फिट बैठता है। 20 लाख रुपये से कम कीमत वाले ईवी को भारत में खरीदार अच्छी तरह से प्राप्त कर सकते हैं।

Share.

Leave A Reply